आरती : श्री विश्वकर्मा जी || Aariti : Shri Vishwakarma Ji Ki Aarti

जय श्री विश्वकर्मा प्रभु, जय श्री विश्वकर्मा ।सकल सृष्टि के करता – 2(पुनः गाए), रक्षक स्तुति धर्मा ॥ आदि सृष्टि

Read more
error: Content is protected !!